पुदीना (Mint Leaves) एक हरे हरे रंग का छोटा सा पौधा होता है जिसे किसी भी नमीदार जगह या फिर गमले में भी आसानी से उगाया जा सकता है। पुदीना में अधिक मात्रा में विटामिन (vitamin) A & C, मिनरल्स (minerals), मैग्नीशियम (magnesium), कैल्शियम (calcium), आयरन (iron), कॉपर (copper) और पौटेशियम (potassium) पाया जाता है इसलिए यह हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। पुदीना से हम अलग अलग तरह के बहुत ही स्वादिष्ट डिश बना सकते है जैसे- चटनी, रायता,परांठे आदि और हम पुदीने का प्रयोग दवाईयों और घरेलू उपचारों के रूप में करते है तो आईये आज हम पुदीने से होने वाले फायदों (Benefits Of Mint Leaves) के बारे में बात करेंगें।

पुदीना के फायदे (Benefits Of Mint Leaves):-medium_482649686
1. नकसीर की समस्या होने पर प्याज और पुदीने का रस मिलाकर नाक में डालने से बहुत ही जल्दी नकसीर के रोगियों को आराम मिल जाता है।
2. हैजा होने पर पुदीना, प्याज का रस, नींबू का रस बराबर-बराबर मात्रा में मिलाकर पिलाने से लाभ होता है।
3. किसी घाव पर या ज़हरीले कीड़े के काटने पर पुदीने के पत्तों का रस लगाने से काफी आराम मिलता है और जलन कम हो जाती है।
4. चेहरे पर पुदीना के पत्तो को पीसकर उसका लेप लगाने से गर्मी के कारण होने वाले फोड़े, फुंसियों तथा मुहांसों में आराम मिलता है। आप पुदीने की पत्तियों को सुखाकर उनका पाउडर बनाकर भी प्रयोग सकते है।
5. बुखार हो जाने पर पुदीने की 8-9 पत्तियो को पानी में उबालकर थोड़ी चीनी मिलाकर उसे गर्म-गर्म चाय की तरह पीना चाहिए, ऐसा करने से बुखार में काफी आराम मिल जाता है।
6. मुंह में से बदबू आने पर पुदीने के रस को पानी में मिलाकर कुल्ला करने से मुंह की बदबू दूर होती है और इससे मुंह में ठंडक का भी एहसास होता है।
7. पुदीना एक एंटीबॉयटिक की तरह काम करता है, मलेरिया बुखार हो जाने पर आधा कप पानी में 1 चम्मच नींबू का रस, 2 चम्मच पुदीना का रस और काला नमक मिलाकर पीने से मलेरिया के बुखार में बहुत ही राहत मिल जाती है।
8. मुंह में छालों की समस्या हो जाने पर पुदीने के रस में रूई के फाहों को अच्छी तरह भिगोकर छाले पर लगाने से छालों में काफी राहत मिलती है और वो जल्दी ठीक हो जाते है।
9. कभी कभी हमे अचानक से लगातार हिचकी आना शुरू हो जाती है, तो जब भी आपको हिचकी की समस्या हो जाये तब पुदीने की 4-5 पत्तियों को चबाकर चूस लेने से हिचकी में तुरंत ही राहत मिल जाती है।
10. सर्दी, जुकाम और खांसी हो जाने पर पुदीना , काली मिर्च, बड़ी इलाइची, नमक और थोड़ा सा गुड मिलाकर काढ़ा बनाकर पीने से बहुत लाभ होता है।

photo credit: Sir_Iwan via photopin cc

Pin It
Cooking Tips – Part 8 (कुकिंग टिप्स)
Benefits Of Papaya (पपीते के फायदे)
Homemade Tutti Frutti Recipe (टूटी फ्रूटी/कैंडी)
Amla Candy Recipe (आँवला कैंडी)
How To Make Healthy Chana Sprouts At Home (घर पर चनों को अंकुरित करने की विधि)
Benefits Of Jaggery (गुड के फायदे)