Yam/Jimikand Pickles Recipe (ओल का आचार)

जिमीकंद/ ओल (yam)  को पूरे भारत के अलग अलग क्षेत्रों में अलग अलग नामों से जाना जाता है जैसे – सूरन , ओल आदि। जिमीकंद (Elephant foot yam) एक प्रकार की फूली हुई जड़ (Tuberous Root) होती है जो एक तरह से अरबी, रतालू  और शकरकंदी की फैमिली का ही सदस्य होता है। जिमीकंद में अधिक मात्रा में पौषक तत्व जैसे – पौटेशियम, प्रोटीन, फाइबर,विटामिन्स, एंटीओक्सिडेंट और ओमेगा 3 फैटी एसिड आदि पाए जाते है जो हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही फायदेमंद होते है। आज हम आपसे ओल का अचार बनाने की विधि शेयर करेंगें जो स्वादिष्ट होने के साथ बहुत ही लाभदायक भी होता है तो आईये आज हम ओल का अचार (Yam/ Jimikand Pickles) बनायेंगें।

आवश्यक सामग्री (Ingredients For Yam/ Jimikand Pickles Recipe)-ool-ka-achar
जिमीकंद (yam)- आधा किलो
जीरा (Cumin Seed)-2 चम्मच
हींग (Heeng)- आधा चम्मच
हल्दी पाउडर (Turmeric Powder)-1 चम्मच
सरसों का तेल (Mustard oil)- 2 कप
अदरक (Ginger)- आधा कप (कद्दूकस की हुई)
लहसुन (Garlic)-आधा कप (छील कर दरदरा कूट लें)
नींबू का रस (Lime Juice)- 2 चम्मच
हरी मिर्च (Green Chilly )- 6-7 (बारीक कटी हुई)
नमक (Salt)- स्वादानुसार

विधि(How To Make Yam/ Jimikand Pickles Recipe)-
जिमीकंद का अचार बनाने के लिए सबसे पहले इस बात का ख़ास ध्यान रखें कि जिमीकंद को सीधे त्वचा के सम्पर्क में लाने पर त्वचा में खुजली होने लगती है इसलिए अचार बनाने से पहले आप दोनों हाथों में दस्ताने या फिर पोलिथीन से कवर कर लें। अब जिमीकंद/ओल को पानी से अच्छी तरह रगड़ रगड़ कर साफ़ कर लें और धुले हुए जिमीकंद को किसी साफ कपड़े से पौंछ कर सुखा लें। अब जिमीकंद को बड़े बड़े टुकडो में काटकर एक प्लेट में रख लें। इसके बाद एक बड़ी थाली या प्लेट में जिमीकंद के सभी टुकड़ो को कद्दूकस कर लें और अब कद्दूकस किये हुए जिमीकंद को दोनों हाथों से दबाकर अच्छी तरह से निचोड़ लें जिससे उसका अतिरिक्त पानी निकल जाये। अब इस कद्दूकस किये हुये जिमीकंद में कटी हुई हरी मिर्च, कद्दूकस किया हुआ अदरक, दरदरा कुटा हुआ लहसुन, जीरा , हींग, नींबू का रस, हल्दी पाउडर और नमक डालकर ऊपर से सरसों का तेल डालकर सभी सामग्रियों को चम्मच की सहायता से अच्छी तरह से मिला लें। स्वादिष्ट ओल का अचार (Yam/ Jimikand Pickles) बनकर तैयार हो गया है, अब ओल के अचार को एक काँच के जार में भर कर रख लें। ओल के अचार को आप 7-8 महीने तक रख कर इस्तेमाल कर सकते है।

Pin It
  • Manju sardana

    Need receipts in english