Benefits Of Radish (मूली के फायदे)

Benefits Of Radish

मूली (Radish) एक बहुत ही फायदेमंद सब्जी है जिसे अलग अलग तरह से प्रयोग में लाया जाता है। मूली में अधिक मात्रा में पौषक तत्व ( Benefits Of Radish) जैसे – प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, विटामिन, आयरन आदि पाये जाते है। मूली से हम बहुत तरह की डिश जैसे – मूली के परांठे, मूली की सब्जी, मूली की भुजिया, मूली का अचार, मूली का लच्छा सलाद आदि चीजे बनाते है जो स्वादिष्ट होने के साथ बहुत ही पौष्टिक भी होती है। मूली को पाचन क्रिया के लिए काफी अच्छा (Benefits Of Radish) माना गया है क्योकि मूली खाने से कब्ज की शिकायत नही रहती है तो आईये आज हम मूली से होने वाले फायदों (Benefits Of Radish) के बारे में बात करेंगें।

 Benefits Of Radish
मूली के फायदे (Benefits Of Radish) :-
1. जब कभी आप हिचकी कि समस्या से परेशान हो तब आप मूली के मुलायम मुलायम पत्तो को चबाकर रस चूस लें, ऐसा करने से हिचकी से तुरंत राहत मिल जायेगी।
2. मूली का सेवन डायबिटीज के रोगी के लिए बहुत ही लाभकारी मानी जाती है, मूली को सलाद के रूप में खाने से या फिर मूली का रस पीने से शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।
3. गैस की समस्या को दूर करने के लिए मूली को काटकर सेंधा नमक लगाकर खाली पेट सुबह के वक्त खाने से लाभ होता है, पर आप इस बात का खास ख्याल रहें कि यदि खांसी की शिकायत हो तब मूली का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए क्योंकि यह उस समय हानिकारक होती है।
4. जलने की समस्या में जले हुए स्थान पर मूली के टुकड़ो को पीसकर लगाने से जलन में तुरंत राहत मिल जाता है और छाले भी नही पड़ते है।
5. अक्सर लोग मूली कि जड़े (Benefits Of Radish) खाकर उसके पत्तों को फेंक देते हैं, जबकि पत्तों में भी स्वाद तथा काफी मात्रा में पोषक तत्व होते हैं इसलिए मूली के पत्तो को भुजियां या परांठे बनाने में प्रयोग करें।
6. भूख न लगने की समस्या को दूर करने के लिए ताजी मुलायम मूली के जड़ व पत्तो को बारीक काटकर अब इसमें अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े, नींबू का रस और सेंधा नमक मिलाकर खाना खाने से पहले या खाने के साथ सलाद के रूप में खाने से कुछ ही दिन में भूख न लगने कि समस्या दूर हो जायेगी।
7. शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाने के लिए मूली के रस (Benefits Of Radish) में बराबर मात्रा में अनार का रस मिला कर पीने से हीमोग्लोबिन का लेवल बढ़ता है।
8. मोटापा की समस्या को दूर करने के लिए मूली के रस में थोड़ा नमक और नीबू का रस मिलाकर नियमित सेवन करें।

photo credit: ChrisGoldNY via photopin cc

Pin It