Elo Jhelo Recipe (एलो झेलो)

एलो झेलो (Elo Jhelo Recipe) एक बहुत ही पारंपरिक बंगाली डिश है जिसे खासतौर पर दशहरा, दिवाली और दुर्गा पूजा के पर्वों के समय बनाया जाता है, एलो झेलो को महाराष्‍ट्र मे चंपाकली (Champakali) के नाम से भी जाना जाता है। एलो झेलो खाने में बहुत ही स्वादिष्ट मिठाई है और आप इस मिठाई को क़रीब 1 महीने तक रखने के बाद भी प्रयोग कर सकते है तो आईये आज हम घर पर स्वादिष्ट और क्रंची एलो झेलो (Elo Jhelo Recipe) बनायेंगें जिसे क़ाफी कम समय में आसानी से बनाया जा सकता है।

Elo-Jhelo

आवश्यक सामग्री (Ingredients For Elo Jhelo Recipe)-
आटा लगाने के लिये (For Dough)
मैदा (Maida)- ढ़ाई कप
घी (Desi Ghee)- 4-5 चम्मच (मोयन के लिये)
कलौंजी (Nigella seeds)- चौथाई चम्मच
नमक (Salt)- चौथाई चम्मच
दूध (Milk)- आधा कप (आटा लगाने के लिये)
तेल (Edible Oil)- आवश्यकतानुसार (एलो झेलो को तलने के लिये)
चाशनी के लिये (For Sugar Syrup)-
चीनी (Sugar)- 2 कप
पानी (Water)- 1 कप
इलाइची पाउडर (Cardamom Powder)- आधा चम्मच

विधि (How To Make Elo Jhelo)-
एलो झेलो बनाने के लिये सबसे पहले मैदा को छानकर किसी बड़े बाउल में निकालकर इसमें घी (मोयन के लिये), नमक और कलौंजी को डालकर अच्छी तरह से मिला लें और अब मैदा को थोड़ा थोड़ा दूध डालकर पूरी जैसा टाइट आटा लगा लें, अब इस आटे को ढककर करीब 15-20 मिनट के लिये रख दें, करीब 25 मिनट के बाद गूंथे हुये आटे को दुबारा से गूंथ कर सेट कर लें और अब आटे से छोटी छोटी लोइयाँ काट लें। अब 1 लोई को लेकर परोथन की सहायता से पूरी के आकार में पतला बेलकर लें, पूरी को बीच बीच मे से मोटी मोटी स्टेप्स मे काट लें और अब एक साइड से स्टेप्स को फोल्ड करते हुये किनारे पर हल्का सा दबाकर चपटा कर दें। इसी तरह एलो झेलो को बेलकर फोल्ड करके एक प्लेट मे रख लें। अब सभी एलो झेलो बनकर तैयार हो गये है, इसलिये अब हम इन्हें डीप फ्राई करेंगें। एलो झेलो को फ्राई करने के लिये कढ़ाही में तेल डालकर गरम करने के लिये गैस पर रखें, जब तेल अच्छी तरह से गरम हो जाये तब गरम तेल मे 1-2 एलो झेलो डालकर कलछी से पलट पलट कर सुनहरा होने तक तलकर निकाल लें, इसी तरह से सभी एलो झेलो को तलकर तैयार कर लें। इसके बाद हम फ्राई किये हुये एलो झेलो को पाग करने के लिये चाशनी बनायेंगें, चाशनी बनाने के लिए किसी कढ़ाही में चीनी और पानी डालकर चाशनी बनाने के लिये गैस पर रखें और चाशनी को कलछी से हुए 2 तार की चाशनी बना लें। अब गैस बन्द कर दें क्योंकि 2 तार की चाशनी बनकर तैयार हो गयी है़। अब हम तली हुई एलो झेलो को चाशनी में डालकर चाशनी की लेयर चढायेंगें। इसके लिए चाशनी में 2-3 तली हुई एलो झेलो डालकर निकाल कर एक थाली में रख लें और इसी तरह से सारे एलो झेलो को चाशनी में डिप करके निकाल लें और एक थाली में एक दूसरे से अलग रखकर करीब आधा घंटे के लिये खुली हुई हवा में छोड़ दें जिससे सभी एलो झेलो में लगी हुई चाशनी अच्छी तरह से सूख जाये। स्वादिष्ट एलो झेलो (Elo Jhelo) बनकर तैयार हो गये है, एलो झेलो को अच्छी तरह से सूखने के बाद एक एयर टाइट कंटेनर मे स्टोर करके रख लें।

Pin It

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *